ये हॉस्पिटल रोहतक के लोगों के लिए एक उपहार है।

Total Views : 2,239
Zoom In Zoom Out Read Later Print

इनके हाथ में वो जादू है की जिस मरीज़ का ये इलाज़ करते हैं वही ठीक होकर अपने घर जाता है। कोरोना में कोरोना मरीज़ों का सही से इलाज़ और इनकी सही सलाह की बदौलत जाने कितने ही कोरोना मरीज़ ठीक होकर आज अपने परिवार के साथ सकुशल हैं। गम्भीर से गम्भीर कोरोना रोगियों में से ठीक होने वाले रोगियों की तादाद ज़्यादा रही। इसी कारण शहर के नामी गिरामी लोगों समेत बड़े अस्पतालों के डॉक्टर के परिजन और रिश्तेदार भी यहाँ इलाज़ के लिए भर्ती हुए।

रोहतक शहर का होली हार्ट हॉस्पिटल किसी परिचय का मोहताज नहीं है। शहर की आम जनता और प्रतिष्ठित लोगों से जब होली हार्ट हॉस्पिटल के बारे में बात की जाती है तो उनका एक ही जवाब होता है- " ये हॉस्पिटल रोहतक के लोगों के लिए एक उपहार है।" कोरोना जैसी महामारी को लेकर रोहतक शहर के सभी हॉस्पिटल अपनी ज़िम्मेदारियाँ बख़ूबी निभा रहें हैं लेकिन होली हार्ट हॉस्पिटल का नाम लबों पर आते ही शहर के लोगों को अपने मनों में संतुष्टि का आभास होता है। क्योंकि होली हार्ट में रोगियों के स्वास्थ्य की चिंता पहले नम्बर पर आती है ना की अस्पताल के ख़र्चों की लिस्ट। आर्थिक अभाव में रहने वाले आम शहरी को भी ये पूर्ण विश्वास है की उनके इलाज में कोई कमि नहीं आएगी चाहे अस्पताल का बिल देर सेवर ही क्यों ना दिया जाए।

शहर के गणमान्य व्यक्ति ही नहीं बल्कि आम आदमी की पहुँच भी होली हार्ट के जाने माने Cardiologist डॉक्टर आदित्य बत्रा तक है।  शहर के आम लोगों का कहना है की डॉक्टर आदित्य बत्रा सही मायने में पैसे के पुजारी ना होकर मानवता के पुजारी हैं। सिर्फ़ डॉक्टर आदित्य बत्रा ही नहीं बल्कि उनके अस्पताल के सभी डॉक्टर स्वभाव से बहुत सरल है। ख़ासकर कोरोना महामारी में होली हार्ट के ट्रामा के डॉक्टर अंकुर अग्रवाल, डॉ० करण भूटानी और डॉ० अंकित खुराना की मरीज़ों के प्रति संवेदनशीलता को देखते हुए रोगियों के परिजनों की विश्वास की कड़ी और मज़बूत हो जाती है की उनके मरीज़ का इलाज़ तसल्लीबक्श होगा। 

रोहतक की कविता का अनुभव डॉक्टर करण भूटानी के साथ कुछ ऐसा रहा-

Dr. Karan bhutani is very nice person and greag at his work. He hear my health issue patiently and guide me accordingly. And i got benefited from his solution.

हाँसी के रहने वाले अमित  ने बताया कि-

I would like to thanks Doctors of Holy Heart Hospital, specially thanks to Dr. Karan Bhutani for helping us in recovery of our covid positive patient."

कोरोना महामारी के चलते रोगी और रोगियों के परिजनों द्वारा होली हार्ट के डॉक्टरस की टीम की कार्यशैली की काफ़ी सराहना की है। हॉस्पिटल के Cardiologist डॉक्टर आदित्य बत्रा के नाम से सभी परिचित है लेकिन डॉक्टर बत्रा के साथ साथ हॉस्पिटल के बाक़ी डॉक्टर्स पर रोहतक वासियों को अटूट भरोसा है । ये डॉक्टर्स हैं - डॉ० अंकुर अग्रवाल, डॉ० अंकित खुराना और डॉ० करण भूटानी। 

आकाशवाणी रोहतक के निदेशक सतीश वत्स ने होली हार्ट के ट्रामा के बारे में अपना अनुभव साझा करते हुए  कहा की-

Today i am alive after recovering from severe Attack of  Covid -19 due to the sincere sensitive , focused treatment given by Dr. Ankit Khurana, Dr.Ankur Aggarwal & Dr. Aaditya Batra ji of Holy Heart Hospital Rohtak. I am greatful to them.

शहर की जानी मानी Social Activist कांता आलड़िया ने कोरोना से जंग जितने का श्रेय डॉक्टर आदित्य बत्रा और उनके हॉस्पिटल की टीम को देते हुए बताया-

मैं कोरोना से अपनी जंग रोहतक के होली हार्ट हॉस्पिटल के डॉक्टरस के कारण जीत पाई । आज मैं होली हार्ट हॉस्पिटल के सभी डॉक्टरस विशेषकर डॉ० आदित्य बत्रा, डॉ० अंकित खुराना, डॉ० अंकुर अग्रवाल, डॉ० करण भूटानी समस्त नर्सिंग स्टाफ़ और वार्ड बाय स्टाफ़ को तहेदिल से शुक्रिया अदा करती हूँ। मेरे जीवन में मैंने पहला ऐसा हॉस्पिटल देखा है जो अपने मरीज़ों के साथ परिवार जैसा व्यवहार करता है और मरीज़ों की देखभाल में कोई कमी नहीं छोड़ता। होली हार्ट की पूरी टीम को बहुत बहुत धन्यवाद।

इनके हाथ में वो जादू है की जिस मरीज़ का ये इलाज़ करते हैं वही ठीक होकर अपने घर जाता है। कोरोना में कोरोना मरीज़ों का सही से इलाज़ और इनकी सही सलाह की बदौलत जाने कितने ही कोरोना मरीज़ ठीक होकर आज अपने परिवार के साथ सकुशल हैं। गम्भीर से गम्भीर कोरोना रोगियों में से ठीक होने वाले रोगियों की तादाद ज़्यादा रही। इसी कारण शहर के नामी गिरामी लोगों समेत बड़े अस्पतालों के डॉक्टर के परिजन और रिश्तेदार भी यहाँ इलाज़ के लिए भर्ती हुए। 

रोहतक के जाने माने Business Man लोकेश जैन डॉक्टर आदित्य बत्रा की तारीफ़ करते नहीं थकते। उन्होंने कहा-

नमस्कार डा.आदित्य बत्रा जी, ईश्वर के बाद किसी से आशा रखी जाती है वह है डॉक्टर 

होली हार्ट हॉस्पिटल ने यह सच कर दिखाया  मेरे परिवारिक दोस्त बजरंग गुप्ता कुछ दिनों से कोविड- बीमारी से ग्रस्त थे। 10 मई को उनकी हालत रात को ज्यादा खराब हुई बुखार 103 तक पहुंच गया। ऑक्सीजन लेवल भी कम हो रहा था। होली हार्ट के डॉ. आदित्य बत्रा से बात करने के बाद  कोरोना महामारी में रात्रि 11 बजे हॉस्पिटल में पेशेंट को सभी अच्छी सुविधाएं मिली और कॉविड सेंटर में बेड भी दिया गया। डॉ अंकुर अग्रवाल, डॉ अंकित खुराना, डॉ भूटानी व स्टाफ का  पूरा कॉर्पोरेशन मिलाआज 17 मई को उनको छुट्टी मिल गई वह एकदम स्वस्थ है। मैं अपनी तरफ से व दोस्त के परिवार की तरफ से डॉ आदित्य बतरा जी व होली हार्ट हॉस्पिटल का धन्यवाद करता हूं। मंगल कामना करता हूं यहां के डॉक्टर इसी तरह सेवा देते रहे समाज की सेवा करते रहें ।

होली हार्ट के ट्रॉमा से ठीक होकर गये कोरोना मरीज़ों का कहना था की यहाँ के सभी डॉक्टर और बाक़ी स्टाफ़ का रवैया मरीज़ों के साथ बहुत अच्छा रहा लेकिन डॉ अंकुर अग्रवाल, डॉ अंकित खुराना और डॉ करण भूटानी के बेहतरीन इलाज़ ने हमारी जान बचा दी।



See More

Latest Photos